Sunday, November 29, 2020

सुरजेवाला का बाउंसर : लॉकडाउन में ‘कोरोना की बजाय ‘शराब-रजिस्ट्री घोटाले’ का खेल खेला गया

Must read

दो नेताओं के बीच घूमती बिहार की दलित राजनीति

संजीव पांडेय बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने खेमा बदल लिया है। इस साल प्रस्तावित बिहार...

अयोध्या जा रहे कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय लल्लू को बाराबंकी में हिरासत में लिया

बाराबंकी। अयोध्या में किसानों से मिलने जा रहे कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को बाराबंकी में हिरासत में ले...

त्रिवेंद्र की कोशिश पर पार्टी ने फेरा पानी

देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की अनिच्छा के बावजूद भाजपा संगठन ने जिस तरह से रुड़की के विधायक कुंवर प्रणव चैंपियन...

कांग्रेस के असंतुष्टों की मंशा पर उठते सवालों के जवाब भी जरूरी हैं

बगावती तेवर में सता की लालसा है। सत्ता का वियोग है। जिन्हे निशाने पर लिया गया है वे भी लोकतांत्रिक नहीं हैं। जनता...

चंडीगढ़। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने आरोप लगाया है कि खट्टर सरकार में ‘घोटाले पर घोटाले’ का अंबार लग गया है। नित नए उजागर हो रहे घोटालों ने खट्टर सरकार की विश्वसनीयता पर प्रश्नचिन्ह खड़ा कर दिया है। खट्टर सरकार के 6 वर्षों में घोटालों की एक लंबी सूची है – धान खरीद घोटाला पार्ट1, धान खरीद घोटाला पार्ट 2, अरावली लैंड यूज़ घोटाला, यमुना खनन घोटाला, ओवरलोडिंग घोटाला, रोडवेज़ किलोमीटर स्कीम घोटाला, HSSC भर्ती घोटाला, पेपरलीक घोटाला, HTET घोटाला, गीता जयंती घोटाला, छात्रवृत्ति घोटाला, बिजली मीटर घोटाला, शराब घोटाला और अब रजिस्ट्री घोटाला। उन्होंने कहा कि 21 जुलाई को खट्टर सरकार ने एक चौंकानेवाला आदेश जारी कर पूरे हरियाणा में 26 दिन के लिए रजिस्ट्रियों पर रोक लगा दी। सार्वजनिक तौर से यह उभर कर सामने आया है कि असल में यह रोक गुड़गांव, सोनीपत, फरीदाबाद यानी दिल्ली NCR में हुई नाजायज संपत्ति पंजीकरण की शिकायतों को लेकर आनन फानन में लगाई गई है। आदेश में तो आईटी अपग्रेडेशन का हवाला दिया गया पर लॉकडाऊन का फायदा उठा भूमाफिया द्वारा दिल्ली NCR की जमीन में अवैध कॉलोनियां काट रजिस्ट्रियां और कन्वेयंस डीड करवाने के नाजायज खेल व भारी अनियमितताओं को इसका असली कारण बताया जा रहा है। इस घोटाले का आंकलन 1,000 करोड़ रुपया किया गया है। सार्वजनिक पटल पर उपलब्ध सूचना में यह भी सामने आया है कि इस गड़बड़झाले में सरकार में उच्च पदों पर बैठे व्यक्तियों और अफसरों का सीधा सीधा हाथ है। गुड़गांवा, फरीदाबाद, सोनीपत आदि से बड़ी संख्या में इस बारे शिकायत सामने आई है। याद रहे कि कोरोना लॉकडाउन के समय इसी प्रकार एक बहुत बड़ा शराब घोटाला हुआ। यहां तक कि आबकारी एवं कराधान विभाग की आंतरिक जांच में एक करोड़ शराब-बीयर इत्यादि की बोतलों का सीधे सीधे घालमेल पाया गया। शराब माफिया ने खूब चांदी कूटी और सरकार के खजाने को चूना लगाया। मुख्यमंत्री ने 15 दिन में जाँच संपूर्ण करने का वादा किया पर हुआ वही ढाक के तीन पात। जांच को पचड़े में डाल दिया गया।

सुरजेवाला ने हरियाणा सरकार से पूछे पांच सवाल

सुरजेवाला ने आरोप लगाया कि रजिस्ट्री घोटाले में तो मुख्यमंत्री, श्री मनोहर लाल खट्टर ने आज तक जाँच के बारे एक शब्द तक नहीं कहा। हमारे खट्टर सरकार से पाँच सवाल हैं:-

1. क्या खट्टर सरकार को भूमाफिया द्वारा लॉकडाऊन की अवधि में किए गए रजिस्ट्री घोटाले की जानकारी है? यदि हां, तो इसे सार्वजनिक क्यों नहीं किया जा रहा?

2. क्या रजिस्ट्री घोटाले में सरकार में बैठे लोगों व चहेते अधिकारियों का सीधा सीधा हाथ है? यदि हां, तो उनके नाम व चेहरे उजागर क्यों नहीं किए जा रहे?

3. क्या अवैध कॉलोनियां काटने, नाजायज रजिस्ट्री व कन्वेयंस डीड करने, सरकार के खजाने को चूना लगाने के बारे अनेकों शिकायतें खट्टर सरकार के पास हैं? यदि हां, तो उन्हें जनता के समक्ष रख दोषियों को बेनकाब क्यों नहीं किया जा रहा?

4. क्या खट्टर सरकार ‘रजिस्ट्री घोटाले’ की हाई कोर्ट के सिटिंग जज से जाँच करवाएगी?

5. क्या मुख्यमंत्री, श्री मनोहर लाल खट्टर सामने आकर सारे तथ्य हरियाणा की जनता से साझा करेंगे या फिर शराब घोटाले की जाँच की तरह इस घोटाले को भी ठंडे बस्ते में डाल दिया जाएगा?

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest article

समीक्षा के बहाने ‘अपने मन की’ करने की तैयारी में त्रिवेंद्र

खराब प्रदर्शन के आधार पर नापसंद मंत्रियों को हटाएंगे और अपनी पसंद के नेताओं को सरकार में लाएंगे

पहले दौर में हुड्‌डा का दांव योगेश्वर दत्त पर भारी

चंडीगढ़। विधानसभा चुनाव के ठीक एक साल बाद मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्‌टर और पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्‌डा आमने-सामने हैं। बरोदा...

हरियाणा की बेटी ने फतह की उत्तराखंड की सबसे ख़तरनाक चोटी रुदुगैरा

विश्व विख्यात पर्वतारोही अनीता कुंडू ने उत्तराखंड में स्थित रुदुगैरा को फतह कर लिया। उनका ये अभियान प्रधानमंत्री और खेल मंत्री...

हाथरस से निकल सकता है कांग्रेस के लिए लखनऊ का रास्ता

लखनऊ। हाथरस कांड कांग्रेस उत्तर प्रदेश में कांग्रेस को पुनर्जीवन देने के लिए बड़ा मुद्दा बन सकता है, खासकर सपा और...

एशियाई लीडरों की तरह ट्रंप भी कर रहे है इनकम टैक्स की चोरी?

संजीव पांडेय अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप लैटिन अमेरिकी और एशियाई लीडरों की कतार में शामिल हो रहे हैं।...