Tuesday, December 1, 2020

कंगना रनौत को संजय राउत ने क्यों कहा, ‘हरामखोर लड़की’ और कंगना ने क्या दिया जवाब। वीडियो देखें

Must read

दो नेताओं के बीच घूमती बिहार की दलित राजनीति

संजीव पांडेय बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने खेमा बदल लिया है। इस साल प्रस्तावित बिहार...

अयोध्या जा रहे कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय लल्लू को बाराबंकी में हिरासत में लिया

बाराबंकी। अयोध्या में किसानों से मिलने जा रहे कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को बाराबंकी में हिरासत में ले...

त्रिवेंद्र की कोशिश पर पार्टी ने फेरा पानी

देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की अनिच्छा के बावजूद भाजपा संगठन ने जिस तरह से रुड़की के विधायक कुंवर प्रणव चैंपियन...

कांग्रेस के असंतुष्टों की मंशा पर उठते सवालों के जवाब भी जरूरी हैं

बगावती तेवर में सता की लालसा है। सत्ता का वियोग है। जिन्हे निशाने पर लिया गया है वे भी लोकतांत्रिक नहीं हैं। जनता...

मुंबई। कंगना रनौत और शिव सेना नेता संजय राउत के बीच चल रहा वाक्युद्ध अब सीमाएं लांघने लगा है। राउत ने सभी हदों को पार करते हुए कंगना को हरामखोर लड़की तक कह डाला। वहीं कंगना ने भी राउत को वीडियो जारी करके खुली चुनौती दे डाली है। वीडियो देखें कि कंगना ने क्या कहा-

संजय राउत जी आपने मुझे हरामखोर लड़की कहा। आप सरकारी मुलाजिम है, आप मंत्री हैं, आप तो जानते ही होंगे कि हर दिन नहीं, हर घंटे कितनी लड़कियों के बलात्कार हो रहे हैं। कितनी लड़कियों का शोषण किया जा रहा है। उनकी बॉडी एसिड डालकर फेंक दी जा रही है। काम की जगह पर उनको गालियां दी जा रही हैं, उनका अपमान किया जा रहा है। उनके खुद के पति नाक, नाक, जबड़े तोड़ रहे हैं।

आपको पता है कि इसका जिम्मेदार कौन है? इसके लिए वो मानसिकता जिम्मेदार है, जिसका भौंडा प्रदर्शन आपने पूरे समाज, पूरे देश के सामने किया है। इस देश की बेटियां आपको माफ नहीं करेंगी, संजय जी। जब आमिर खान जी ने कहा कि उनको इस देश में डर लगता है तो उन्हें किसी ने हरामखोर नहीं कहा। जब नसीरुद्दीन शाह जी ने कहा था, तब उन्हें भी किसी हरामखोर नहीं कहा।

जिस मुंबई पुलिस की तारीफ करते हुए मैं नहीं थकती थी। पालघर में अगर साधुओं की लिंचिंग के सामने वे चुपचाप खड़े रहते हैं। सुशांत के पिता या मेरी एफआईआर नहीं लेते। इस पर मैं प्रशासन की निंदा करती हूं, जो कि मेरी अभिव्यक्ति की आजादी है। संजय जी, मैं आपकी निंदा करती हूं, आप महाराष्ट्र नहीं हैं। आप ये नहीं कह सकते कि मैंने महाराष्ट्र की निंदा की।

संजय जी, मैं 9 सितंबर को आ रही हूं। आपके लोग कह रहे हैं कि मेरा जबड़ा तोड़ देंगे, मुझे मार डालेंगे। आप लोग मुझे मारिए, क्योंकि इस देश की जो मिट्टी और गरिमा के लिए न जाने कितने लोगों ने जान दी है। हम भी ये देंगे संजय जी, क्योंकि हमें भी वो कर्ज निभाना है। मिलते हैं 9 सितंबर को। जय हिंद, जय महाराष्ट्र।

गुरुवार को कंगना रनोट ने अपने एक ट्वीट में लिखा था कि संजय राउत उन्हें मुंबई न आने की धमकी दे रहे हैं। उन्होंने यह सवाल भी उठाया था कि आखिर क्यों मुंबई उन्हें पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) की तरह लग रही है। इसे लेकर राउत लगातार कंगना पर हमलावर हैं। शनिवार को उन्होंने एक न्यूज चैनल के रिपोर्टर ने राउत से कंगना के उस बयान पर रिएक्शन मांगा था, जिसमें उन्होंने 9 सितंबर को मुंबई आने की बात कही थी और चुनौती दी थी कि रोक सको तो रोक लो। जवाब में राउत ने कहा था, “आप क्या उस हरामखोर लड़की की वकालत कर रहे हो?”

- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest article

समीक्षा के बहाने ‘अपने मन की’ करने की तैयारी में त्रिवेंद्र

खराब प्रदर्शन के आधार पर नापसंद मंत्रियों को हटाएंगे और अपनी पसंद के नेताओं को सरकार में लाएंगे

पहले दौर में हुड्‌डा का दांव योगेश्वर दत्त पर भारी

चंडीगढ़। विधानसभा चुनाव के ठीक एक साल बाद मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्‌टर और पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्‌डा आमने-सामने हैं। बरोदा...

हरियाणा की बेटी ने फतह की उत्तराखंड की सबसे ख़तरनाक चोटी रुदुगैरा

विश्व विख्यात पर्वतारोही अनीता कुंडू ने उत्तराखंड में स्थित रुदुगैरा को फतह कर लिया। उनका ये अभियान प्रधानमंत्री और खेल मंत्री...

हाथरस से निकल सकता है कांग्रेस के लिए लखनऊ का रास्ता

लखनऊ। हाथरस कांड कांग्रेस उत्तर प्रदेश में कांग्रेस को पुनर्जीवन देने के लिए बड़ा मुद्दा बन सकता है, खासकर सपा और...

एशियाई लीडरों की तरह ट्रंप भी कर रहे है इनकम टैक्स की चोरी?

संजीव पांडेय अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप लैटिन अमेरिकी और एशियाई लीडरों की कतार में शामिल हो रहे हैं।...